जांच

अब कॉल करें: 18001028384 (टोल फ्री)

त्रैलोक्य चिंतामणि रस

घटक द्रव्य:

कज्जली ,स्वर्ण भस्म, वैक्रांत भस्म, रौप्य भस्म, ताम्र भस्म, अभ्रक भस्म ,मोती भस्म ,शंख भस्म इत्यादि।

चिकित्सीय उपयोग:

इसके सेवन से शरीर में खून की कमी दूर होती है। यह सभी प्रकार के ज्वर ,वात विकारों जैसे पैरालाइसिस में उपयोगी है। इसके सेवन से पाचन ठीक होता है एवं शरीर में ऊर्जा व स्फूर्ति आती है।

संदर्भ:

भैषज्य रत्नावली

सेवन मात्रा:

एक टैबलेट सुबह 1 टेबलेट शाम को शहद के साथ दिन में दो बार

आइटम कोड:

4122

मात्रा :

पैकेज :

500 रुपये से ऊपर आर्डर पर मुफ्त डिलीवरी

आकार
5 TAB एमआरपी : 425.00 स्टॉक उपलब्ध
10 TAB एमआरपी : 830.00 स्टॉक उपलब्ध

पैकेज:

इसके अलावा नीचे रोगों में प्रयुक्त